भौतिक काउन्सिलिंग सम्बन्धी आवश्यक निर्देश
भौतिक काउन्सिलिंग सम्बन्धी आवश्यक निर्देश
  1. भौतिक सत्यापन के लिए आपको समस्त मूल प्रमाण-पत्रों एवं उसकी एक सेट छायाप्रति के साथ निर्धारित तिथि पर निर्धारित संकाय / विभाग पर उपस्थित होना है।
  2. ऑनलाइन प्रमाण-पत्र सत्यापन के लिए यदि आपने अर्हकारी परीक्षा की ऑनलाइन प्रति अपलोड की है तो भौतिक काउन्सिलिंग के समय आपको ऑनलाइन प्रमाण-पत्र को प्रिंट करके एवं अपने विद्यालय / कॉलेज के प्रिंसिपल द्वारा सत्यापित कराकर अनिवार्य रुप से प्रस्तुत करना होगा, अन्यथा आप प्रवेश प्रक्रिया से वंचित रह जायेंगे।
  3. आरक्षण का लाभ केवल उन्हीं अभ्यर्थियों को दिया जायेगा जो उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी हैं।
  4. अनुसूचित जाति / जनजाति के अभ्यर्थी हेतु निर्देश:
    1. अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के प्रमाण-पत्र सदैव वैध रहेगा ।
    2. अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के ऐसे अभ्यर्थी जिन्हें शून्य फीस पर प्रवेश लेना है , उन्हें सक्षम अधिकारी द्वारा निर्गत आय प्रमाण पत्र भी प्रस्तुत करना होगा । यह आय प्रमाण पत्र 1 अगस्त, 2018 के पूर्व का नही होना चाहिए।
    3. अनुसूचित जाति / अनुसूचित जनजाति के केवल उन्हीं अभ्यर्थियों को शून्य फीस पर प्रवेश अनुमन्य है जिनकी वार्षिक पारिवारिक आय रु० 2,00,000 (रु० दो लाख) या उससे कम है।
  5. अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) के अभ्यर्थियों हेतु निर्देश:
    अन्य पिछड़ा वर्ग (OBC) श्रेणी के अभ्यर्थियों हेतु जाति प्रमाण पत्र 01 अगस्त, 2018 के पूर्व का नही होना चाहिए ।
  6. आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) के अभ्यर्थियों हेतु निर्देश:
    आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) श्रेणी का लाभ उन्ही अभ्यर्थियों को देय होगा जो इस हेतु सत्र 2021-22 हेतु सक्षम अधिकारी द्वारा निर्गत आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग हेतु दिया जाने वाला आय एवं परिसम्पत्ति प्रमाण पत्र प्रस्तुत करेंगे।
  7. ऐसे विवाहित महिला अभ्यर्थी जिन्होंने आरक्षित संवर्ग हेतु आवेदन किया है उन्हें जाति प्रमाण पत्र पिता के जाति के अनुसार तथा आय व निवास प्रमाण पत्र पति के नाम का प्रस्तुत करना होगा।
  8. प्रवेश श्रेणीवार मेरिट के आधार पर ही लिया जायेगा। भौतिक काउन्सिलिंग हेतु निर्धारित सीट से दो गुने अभ्यर्थियों को मैसेज भेजा गया है।
  9. प्रवेश परीक्षा हेतु आनलाईन परीक्षा आवेदन-पत्र में क्लेम किये गए भारांक तथा आरक्षण से सम्बन्धित भौतिक प्रमाण-पत्रों में विसंगति पाए जाने कि स्थिति में उक्त का लाभ नहीं दिया जायेगा।
  10. भौतिक काउन्सिलिंग के पश्चात चयनित अभ्यर्थी जिनका प्रवेश होगा, उन्हें फीस जमा करने हेतु मेसेज भेजा जायेगा तदुपरान्त अभ्यर्थी निर्धारित तिथि तक ऑनलाइन पेमेंट गेटवे (Net Banking, Debit Card, Credit Card) के माध्यम से भुगतान कर सकेंगे।  अभ्यर्थियों से यह भी अनुरोध है कि वे लगातार वेबसाइट का अवलोकन करते रहें ताकि यदि किसी तकनीकी कारणवश मैसेज न पहुँच पाए तो फीस जमा करने में बाधा न आये।  
  11. निर्धारित तिथि तक शुल्क जमा न कर पाने की स्थिति में अभ्यर्थी की सीट उसके नीचे के मेरिट के अर्ह अभ्यर्थी को दे दी जाएगी। किसी भी दशा में शुल्क जमा करने की तिथि विस्तारित नहीं की जाएगी।
  12. शुल्क जमा करने के पश्चात प्रवेशार्थी प्रवेश शुल्क रसीद के साथ अपने प्रवेश अनुमति पत्र की 02 प्रति प्रिंट करेंगे साथ ही कुलानुशासक प्रपत्र सम्बन्धी ऑनलाइन आवेदन पत्र भरकर उसे भी प्रिंट कर लेंगे।
  13. प्रवेश अनुमति पत्र की विश्वविद्यालय प्रति, मूल प्रमाण पत्रों की दो प्रति के साथ सम्बंधित संकाय / विभाग / संस्थान में तथा कुलानुशासक प्रपत्र का आवेदन पत्र कुलानुशासक कार्यालय में अवश्य जमा करेंगे अन्यथा उनका प्रवेश मान्य नहीं होगा।
  14. प्रवेश के बाद भी यदि किसी भी स्तर पर मूल प्रमाण-पत्रों में कोई विसंगति पायी जाती है तो अभ्यर्थी का प्रवेश निरस्त कर दिया जायेगा एवं निरस्त होने की दशा में फीस जब्त कर ली जाएगी।
  15. प्रवेश अनुमति पत्र के साथ स्नातक के प्रवेशार्थी टी०सी० तथा स्नातकोत्तर के अभ्यर्थी माइग्रेशन प्रमाण-पत्र एवं एंटी-रैगिंग वचन-पत्र (अंडरटेकिंग) सम्बंधित संकाय / विभाग / संस्थान में जमा करेंगे।